जानें आपके अपनों को डिप्रेशन से बाहर निकालने के कारगर उपाय

डिप्रेशन से ग्रस्त किसी मित्र या परिचित को मदद की सबसे ज्यादा जरूरत होती है। डिप्रेशन से बाहर आने में अपनों की मदद कैसे करें? कभी-कभी जीवन के नियमित उतार-चढ़ाव और मानसिक स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं जैसे अवसाद और चिंता के बीच अंतर जानना मुश्किल होता है। मानसिक स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं का सामना करने वाला व्यक्ति शर्मिंदगी महसूस कर सकता है।

वे इस बारे में चिंतित हो सकते हैं कि अगर वे इसके बारे में बात करते हैं तो उनके मित्र कैसे प्रतिक्रिया देंगे। अपनों की मदद करने के लिए पहला कदम यह है कि आप अवसाद के बारे में सही जानकारी प्राप्त करें। जिससे आपका मित्र या परिचित गुजर रहा है। इससे आपको यह समझने में मदद मिलेगी कि क्या हो रहा है और वे कैसा महसूस करते हैं।

डिप्रेशन से बाहर आने के लिए ये जानना है जरूरी

सभी एक ही तरह से डिप्रेशन का अनुभव नहीं करते हैं। सभी मरीजों में लक्षण भिन्न हो सकते हैं। अगर आपके आस-पास कोई अवसाद का अनुभव कर रहा है, तो उनमें ऐसे लक्षण देखे जा सकते हैंः

1- सुबह देर से उठना या बहुत अधिक सोना, या नींद में समस्या होना सबसे ज्यादा देखे जाने वाला लक्षण है।

2- दोस्तों के साथ अकसर हैंगआउट मिस करना या आखिरी समय में रद्द करना।

3- डिप्रेशन के मरीज अकसर सामान्य से अधिक या कम खाना खाते दिखाई पड़ते हैं।

4- अचानक अधिक शराब का सेवन करना।

5- थका हुआ या बेकार महसूस करने के बारे में अकसर बात करते हुए नजर आ सकते हैं।

6- अवसाद ग्रस्त लोग अकसर अधिक निराशावादी और निराशाजनक लगते हैं।

7- इस स्थिति में मरीज को निर्णय लेने में कठिनाई होती है।

8- अवसाद से ग्रस्त व्यक्ति कई बार नए लोगों, स्थितियों या अपरिचित स्थानों से बचने का प्रयास करते हैं।

9- स्वभाव में उदासीनता, भुलक्कड़, विचलित या बिखरे हुए लगते हैं।

10- डिप्रेशन की वजह से कई लोगों में पाचन संबंधी समस्याएं भी पैदा हो जाती हैं।

11- नींद न आने की समस्या अवसाद से परेषान होने पर और भी गंभीर हो जाती है।

अवसाद की पहचान के बाद का जरूरी कदम

यह पहचान लेने के बाद कि आपका दोस्त या परिवार का कोई सदस्य डिप्रेशन का षिकार है। उसे किसी पेशेवर सहायता प्राप्त करने के लिए प्रेरित कीजिए। यह भी जरूरी है कि वे जानते हों कि उन्हें आपसे, या अन्य मित्रों व परिवार के सभी सदस्यों का समर्थन मिलेगा। जीहां इसके लिए भी आपको ही प्रयत्न करने होंगे।

अगर आपको लगे कि आपका दोस्त खतरे में हो सकता है या खुद को या किसी और को चोट पहुंचा सकता है। तो बिना देर किए किसी विश्वसनीय वयस्क या आपातकालीन सेवाओं की मदद लेनी जरूरी है।

डिप्रेशन से बचने के लिए क्या करें

विशेषज्ञों के अनुसार आपको अपने मूड की निगरानी करनी चाहिए। यह महत्वपूर्ण है कि आप अपने स्वयं के मूड और तनाव के स्तर पर नज़र रखें। यह जरूरी है कि उन चीजों को न छोड़ें जो आपको पसंद हैं। हमेशा सुनिश्चित करें कि आपके पास अपनी पसंदीदा चीजें करने का समय है। आराम करने के लिए समय निकालें। आराम आपको तनावमुक्त करने और तनाव से निपटने में मदद करने के लिए बहुत अच्छा है।

आप सांझ संजोली पत्रिका से इस्टाग्राम पर जुड़ सकते हैं।

You May Also Like