पैरों की देखभाल है बेहद जरूरी – 15 foot care tips

हम अक्सर अपने चेहरे की देखभाल पर तो काफी ध्यान देते हैं, लेकिन पैरों खासकर पंजों को अक्सर यूं ही छोड़ देते हैं। नतीजा फटी एड़ियां और अंगुलियों में होने वाले विभिन्न तरह के इंफेक्शन। पूरे दिन ऑफिस में शूज व बैली को पहनने की वजह से पैरों में फंगस होना आम बात है। अगर आप चाहते हैं कि गर्मी में आपके पैर ठीक रहें, तो इसके लिए जरूरी है कि आपको कुछ एहतियात बरतनी होगी, ताकि आपके पैरों में पसीने से बदबू ना आए।

इसके लिए आप इन बातों का ध्यान रखें foot care tips:
काॅस्मेटिक स्किन एंड होम्योक्लीनिक की काॅस्मोटाॅलेजिस्ट व होम्योफिजीशियन डाॅक्टर करूणा मल्होत्रा के अनुसार रोजाना नहाते समय पैरों को साबुन से धोएं। एडी को भी स्क्रब करें, ताकि उस पर मैल जमा न हो सके। गर्मियों में मोजे-जूते पहनने के पहले पैरों पर थोडा टेलकम पावडर लगाने से पैरों में अधिक नमी से राहत मिलती है। गर्मियों बिना धुले मोजे बिल्कुल न पहनें और साथ ही लगातार एक ही जोडी जूते पहनने से भी बचें।
दिनभर काम के सिलसिले में बाहर रहने वाले लोगों को व खडे रहकर काम करने वाले लोगों को पूरे दिन जूते पहनना पडता है। अतः घर लौटते ही अपने जूते उतार दें और कुछ समय नंगे पैर भी रहें, इससे भी पैरों की सेहत में सुधार होता है।

  1. पैरों की सफाई का खास ध्यान रखें, इसके लिए आप डिटाॅल का प्रयोग कर सकते हैं।
  2. नाॅयलान के मोजों की जगह हमेषा काॅटन के मोजों का प्रयोग करें और पसीने से गीले हो गए मोजों को बदलने में देरी न करें।
  3. समय-समय पर पैडीक्योर का जरूर करवा लें, इससे पैरों की सही प्रकार से सफाई हो जाती है।
  4. गीले पैरों को सही प्रकार से साफ करने के बाद उनके सूखने के बाद ही जूते पहनें।
  5. नंगे पांव बिल्कुल न चलें।
  6. खुले जूते पहनें या ऐसी चप्पलें पहने जिसमें पसीना आसानी से सूख जाएं।
  7. सप्ताह में एक दिन जूतों को कुछ देर धूप में रखें, जिससे उसमें मौजूद सूक्ष्मजीवी या फफूंद नश्ट हो जायें।
  8. बाहर से घर आने पर शूज उतार दें और इनकी जगह स्लीपर्स पहन लें। इससे आपके पैरों को पूरी हवा लगेगी।
  9. चप्पल व सैंडल घर व बीच वेकेशन पर ही पहनें। अगर आप रात को कही वाॅक के लिए जा रहे हैं, तो बरमूडा के साथ फ्लोटर्स पहनें। इसमें आप कंफटेर्बल फील करेंगे।
  10. अगर आप ऑफिस में सारा दिन सॉक्स व शूज पहने रहते हैं, तो बंद सैंडल आदि से बचें। खुले सैंडलों से पैरों में हवा आसानी से आरपार होगी और आपके पैरों में पसीने के कारण बदबू भी नहीं आएगी।
  11. सही माप के आरामदायक जूते लें। आरामदायक जूते पहनने से आपके शरीर का संतुलन सही रहेगा। साथ ही पैरों को थकान भी महसूस नहीं होगी।
  12. आप जब सैंडल खरीदें, तो जरूरी है कि सैंडल आपके पैर को पूरा सपोर्ट करें और कंफर्टेबल हों। चूंकि गर्मी है, तो ऐसे में लूज सैंडल चुनें।
  13. यदि आपके पैर दर्द करते हैं तो आप इन्हें सी सॉल्ट मिले गुनगुने पानी में डुबो सकते हैं। इससे दर्द से राहत मिलती है और नर्व को आराम मिलता है।
  14. अपने पैरों को रिलैक्स करने के लिये आप हाथों से हल्के गूंधते हुए तलुवों की मसाज कर सकते हैं। हल्के से हाथों को घुमाने और सॉफ्ट मसाज से आपके पैरों को रिलैक्स होने में मदद मिलती है।
  15. यदि आपकी एडियों में दर्द हो तो हाई हील शूज से बचें क्योंकि इससे खिंचाव और दर्द ज्यादा बढ़ सकता है।

हम अक्सर अपने चेहरे की देखभाल पर तो काफी ध्यान देते हैं, लेकिन पैरों खासकर पंजों को अक्सर यूं ही छोड़ देते हैं। नतीजा फटी एड़ियां और अंगुलियों में होने वाले विभिन्न तरह के इंफेक्शन। पूरे दिन ऑफिस में शूज व बैली को पहनने की वजह से पैरों में फंगस होना आम बात है। अगर आप चाहते हैं कि गर्मी में आपके पैर ठीक रहें, तो इसके लिए जरूरी है कि आपको कुछ एहतियात बरतनी होगी, ताकि आपके पैरों में पसीने से बदबू ना आए।

इसके लिए आप इन बातों का ध्यान रखें
काॅस्मेटिक स्किन एंड होम्योक्लीनिक की काॅस्मोटाॅलेजिस्ट व होम्योफिजीशियन डाॅक्टर करूणा महल्होत्रा के अनुसार रोजाना नहाते समय पैरों को साबुन से धोएं। एडी को भी स्क्रब करें, ताकि उस पर मैल जमा न हो सके। गर्मियों में मोजे-जूते पहनने के पहले पैरों पर थोडा टेलकम पावडर लगाने से पैरों में अधिक नमी से राहत मिलती है। गर्मियों बिना धुले मोजे बिल्कुल न पहनें और साथ ही लगातार एक ही जोडी जूते पहनने से भी बचें।
दिनभर काम के सिलसिले में बाहर रहने वाले लोगों को व खडे रहकर काम करने वाले लोगों को पूरे दिन जूते पहनना पडता है। अतः घर लौटते ही अपने जूते उतार दें और कुछ समय नंगे पैर भी रहें, इससे भी पैरों की सेहत में सुधार होता है।

  1. पैरों की सफाई का खास ध्यान रखें, इसके लिए आप डिटाॅल का प्रयोग कर सकते हैं
  2. नाॅयलान के मोजों की जगह हमेषा काॅटन के मोजों का प्रयोग करें और पसीने से गीले हो गए मोजों को बदलने में देरी न करें
  3. समय-समय पर पैडीक्योर का जरूर करवा लें, इससे पैरों की सही प्रकार से सफाई हो जाती है।
  4. गीले पैरों को सही प्रकार से साफ करने के बाद उनके सूखने के बाद ही जूते पहनें
  5. नंगे पांव बिल्कुल न चलें
  6. खुले जूते पहनें या ऐसी चप्पलें पहने जिसमें पसीना आसानी से सूख जाएं
  7. सप्ताह में एक दिन जूतों को कुछ देर धूप में रखें, जिससे उसमें मौजूद सूक्ष्मजीवी या फफूंद नश्ट हो जायें।
  8. बाहर से घर आने पर शूज उतार दें और इनकी जगह स्लीपर्स पहन लें। इससे आपके पैरों को पूरी हवा लगेगी।
  9. चप्पल व सैंडल घर व बीच वेकेशन पर ही पहनें। अगर आप रात को कही वाॅक के लिए जा रहे हैं, तो बरमूडा के साथ फ्लोटर्स पहनें। इसमें आप कंफटेर्बल फील करेंगे।
  10. अगर आप ऑफिस में सारा दिन सॉक्स व शूज पहने रहते हैं, तो बंद सैंडल आदि से बचें। खुले सैंडलों से पैरों में हवा आसानी से आरपार होगी और आपके पैरों में पसीने के कारण बदबू भी नहीं आएगी।
  11. सही माप के आरामदायक जूते लें। आरामदायक जूते पहनने से आपके शरीर का संतुलन सही रहेगा। साथ ही पैरों को थकान भी महसूस नहीं होगी।
  12. आप जब सैंडल खरीदें, तो जरूरी है कि सैंडल आपके पैर को पूरा सपोर्ट करें और कंफर्टेबल हों। चूंकि गर्मी है, तो ऐसे में लूज सैंडल चुनें।
  13. यदि आपके पैर दर्द करते हैं तो आप इन्हें सी सॉल्ट मिले गुनगुने पानी में डुबो सकते हैं। इससे दर्द से राहत मिलती है और नर्व को आराम मिलता है।
  14. अपने पैरों को रिलैक्स करने के लिये आप हाथों से हल्के गूंधते हुए तलुवों की मसाज कर सकते हैं। हल्के से हाथों को घुमाने और सॉफ्ट मसाज से आपके पैरों को रिलैक्स होने में मदद मिलती है।
  15. यदि आपकी एडियों में दर्द हो तो हाई हील शूज से बचें क्योंकि इससे खिंचाव और दर्द ज्यादा बढ़ सकता है।