लैपटॉप खरीदने से पहले ध्यान रखने वाली जरूरी बातें

लैपटॉप खरीदने से पहले कुछ बातें हैं जिनका आपको ध्यान रखना चाहिए। खरीद के बाद आप उसे आने वाले कुछ सालों तक प्रयोग करने वाले होते हैं। इसलिए अपने पर्सनल लैपटॉप का चुनाव बड़ी समझदारी से करना चाहिए। आपको प्रयोग ज्यादा है या कम है इसका ध्यान जरूर रखें। इसी को ध्यान में रखकर ही लैपटाप का चुनाव करें। इसके साथ लैपटॉप की रैम, स्टोरेज, स्क्रीन, बैटरी, सीपीयू आदि के बारे में कुछ सुझाव हैं जिन्हें आप ध्यान से पढ़ें।

लैपटॉप खरीदने से पहले कीमत

आपको लैपटॉप खरीदने से पहले अपना बजट निश्चित कर लेना चाहिए। इसके साथ आपको किसी विशेष छूट के चक्कर में नहीं पड़ना चाहिए। हमेशा अपनी जरूरत को अहमियत देनी चाहिए। छूट को ध्यान में रखकर की गई खरीद बाद में मंहगी पड़ सकती है। इसलिए अपने बजट में बेस्ट लैपटॉप लेना ही आपका मकसद होना चाहिए।

गेमिंग लैपटॉप खरीदने से पहले

क्या आप गेमिंग लैपटॉप खरीदने जा रहे हैं? अगर हां तोे आपको स्क्रीन रिफ्रेश रेट को जानना जरूरी होता है। अगर लैपटॉप के स्क्रीन रिफ्रेश रेट को नहीं बताया गया है। तो आप इसके बारे में सेलर से पूछ सकते हैं। आपको कम से कम 120एचजेड तक का लैपटॉप लेना चाहिए। इसके साथ रैम और ग्राफिक कार्ड के बारे में जानकारी आपके लिए जरूरी हो जाती है।

लैपटॉप की स्क्रिीन

अगर आप फोटो या वीडियो एडिटिंग लैपटॉप् लेना चाहते हैं। तो आपको एक बेहतर स्क्रीन वाले लैपटॉप की जरूरत होगी। स्क्रीन से समझौता आपको काम करने में परेशानी पैदा कर सकता है। लेने से पहले आप स्क्रिीन के रिजोल्यूशन और ब्राइटनेस को चेक जरूर करें। इसके साथ हैंग होने की समस्या से बचने के लिए बेहतर रैम भी चुने।

सीपीयू का चुनाव

सीपीयू का चुनाव करने से पहले, आपको अपने प्रयोग को ध्यान में रखना होगा। अगर आप हैवी यूजर हैं तो इसके बारे में सेलर को बता दें। जिससे वो आपको अच्छी कॉफिगरेशन वाला लैपटॉप ही दिखाएगा। अगर आप गेमिंग के लिए अच्छा सीपीयू ढूंढ रहे हैं। तो आपको ध्यान में रखना होगा कि, बहुत ज्यादा पावरफुल सीपीयू जल्दी गर्म हो जाते हैं। इसलिए अच्छी कूलिंग वाले लैपटॉप को वरीयता दें।

रैम का चुनाव

पहले 4जीबी रैम बहुत होती थी। लेकिन इन दिनों कम से कम 8 जीबी रैम अच्छी होती है। प्रयोग बहुत ज्यादा रहता हो तो 16 जीबी रैम बढ़िया रहेगी। आप हैवी वर्क के लिए 32 जीबी रैम के बारे में भी सोंच सकते हैं। रैम ज्यादा होने से एक समय में आप कई एैप में काम कर सकते हैं। साथ ही बार-बार लैपटॉप हैंग होने की समस्या भी नहीं होगी।

लैपटॉप में स्पेस

पहले हार्ड ड्राइव स्टोरेज के लिए हुआ करता था। लेकिन अब सॉलिड स्टेट ड्राइव एसएसडी का प्रयोग होता है। ये हार्ड ड्राइव की तुलना हर मायने में अच्छी रहती हैं। इससे लैपटॉप की स्पीड में भी बढ़ोतरी होती है। साथ ही लैपटॉप का वजन भी हल्का होता है। इललिए आप एसएसडी वाले लैपटॉप का ही चुनाव करें। ये हार्ड ड्राइव की तुलना में आपके लिए बेहतर रहेगा।

बैटरी की जरूरत

लैपटॉप बिना पावर सप्लाई के लंबे समय तक प्रयोग हो सके, इसलिए बैटरी अच्छा होना जरूरी होता है। लैपटॉप लेने से पहले उसके बैटरी बैकअप के बारे में जरूर जान लें। वैसे बहुत सारे फैक्टर हैं जो बैटरी लाइफ को प्रभावित करते हैं। जैसे कि स्क्रीन ब्राइटनेस, स्क्रीन रेजोल्यूशन, आपके द्वारा बैकग्राउंड में चलने वाले एप्लिकेशन आदि। बैटरी बैकअप के साथ आप को फास्ट चार्जिंग वाले लैपटॉप पसंद करने चाहिए।

हमारे फेसबुक पेज को फॉलो करें। आप सांझ संजोली पत्रिका से इस्टाग्राम पर जुड़ सकते हैं। आपको बेहतर और सटीक जानकारी प्रदान करना ही हमारा लक्ष्य है।