कोरोना वायरसः गर्भवती महिलाएं अपनाएं बचाव के ये उपाय!

गर्भवती महिलाओं को अपने साथ साथ अपने शिशु के स्वास्थ्य का भी ख्याल रखना पड़ता है। ऐसे समय जब कोरोना वायरस से पैदा हुई समस्या पूरे विश्व में विकराल रूप ले चुकी है। लोगों को इससे घबराने की नहीं बल्कि विशेष सावधानियां रखने की जरूरत है। जो महिलाएं गर्भवती हैं उनके लिए यह और भी ज्यादा जरूरी है क्योंकि उनके गर्भ में पल रहे शिशु की देखभाल की पूरी जिम्मेदारी उन्हीं के ऊपर होती है। गर्भवती महिलाओं की एक छोटी सी गलती उनके स्वास्थ्य के साथ-साथ उनके शिशु के स्वास्थ्य पर भी बुरा प्रभाव डाल सकती है। इसीलिए इस इस समय आम दिनों से ज्यादा सावधानियां रखकर आप अपने और अपने होने वाले शिशु की सही प्रकार से रक्षा कर सकती हैं। आइए जानते हैं कुछ सावधानियों के बारे में

भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचें
मदर्स लैप आईवीएफ सेंटर की मेडिकल डायरेक्टर व गायनाकाॅलेजिस्ट डाॅक्टर शोभा गुप्ता ने बताया कि भारत सरकार द्वारा भीड़-भाड़ से बचने और सभी को बचाने के लिए बेहद कारगर कदम उठाए जा रहे है। गर्भवती महिलाओं को चाहिए कि वे भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचें। उनको ऐसे स्थानों में जाने से बचना चाहिए जहां पर कई लोग एक साथ एकत्रित हो क्योंकि ऐसी जगहों पर संक्रमण फैलने का खतरा बहुत ही ज्यादा होता है। अगर किसी कारणवश आपको ऐसी जगहों पर जाना ही पड़े तो आपके चेहरे को सही से कवर करने वाले मास्क का प्रयोग जरूर करें। साथ ही मास्क को पहनने और उतारने के लिए उसके स्ट्रैप्स के अलावा कहीं हाथ ना लगाएं। भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचें अगर फिर भी जाना ही पड़े तो किसी भी व्यक्ति से कम से कम 1 मीटर की दूरी अवश्य बनाकर रखें।

हाथों की सही तरह से सफाई
यह तो आप सभी जानते हैं कि अपने हाथों को साफ करना बहुत जरूरी होता है। इन इन दिनों जब कोरोना वायरस बहुत ज्यादा फैला हुआ है ऐसे में हाथों की सफाई और भी ज्यादा आवश्यक हो गई है। आपके होने वाले बच्चे और आपके स्वास्थ्य के लिए आवश्यक है कि, कुछ समय के अंतराल में दिन में कई बार कम से कम 20 सेकंड अपने हाथों साबुन से अच्छी तरह धुलें। अगर आप किसी ऐसी जगह पर हैं जहां पर पानी उपलब्ध नहीं है तो हाथों को साफ करने के लिए सैनिटाइजर का प्रयोग करते रहें।

नियमित जांच
गर्भावस्था के दौरान आप की नियमित जांच आपके और आपके होने वाले बच्चे के स्वास्थ्य के लिए बहुत ही जरूरी होती है। किसी भी संभावित खतरे को कम करने के लिए आवश्यक है कि आप समय-समय पर अपनी जांच करवाती रहें। आपके और आपके बच्चे दोनों के लिए यह जरूरी है कि किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या सामने आने पर तुरंत ही अपने चिकित्सक को सूचित करें। नियमित जांच आपके और आपके बच्चे को स्वस्थ बनाए रखती है तो किसी भी कीमत पर अपनी नियमित जांच को ना टालें।

मुंह को बार-बार ना छुएं
शांता फर्टिलिटी सेंटर की आईवीएफ व स्त्री रोग विशेषज्ञ डाॅक्टर अनुभा सिंह ने बताया कि किसी भी वायरस से बचने के लिए जरूरी है कि उसे अपने शरीर में प्रवेश करने से हम किस तरह रोकते हैं। कुछ लोग बार-बार अपना मुंह हाथों से छूते रहते हैं। ऐसा करके आप वायरस को अपने शरीर में पहुंचने का रास्ता प्रदान करते हैं। गर्भवती महिलाओं के साथ-साथ सभी के लिए जरूरी है कि वह अपने मुंह को बार-बार छूने से बचें। अगर आपको बार-बार अपने मुंह, आंख, नाक व कान को छूनें की आदत है तो इस आदत को तुरंत ही बदल लें। गर्भवती महिलाओं के लिए यह और भी ज्यादा जरूरी है क्योंकि उनके साथ-साथ उनके शिशु के लिए के स्वास्थ्य के लिए भी यह हानिकारक हो सकता है।

पर्याप्त नींद लें
गर्भवती महिलाओं के लिए जरूरी है कि आप शरीर और दिमाग को पूरी तरह से ऊर्जावान बनाए रखें। शरीर और दिमाग को ऊर्जावान बनाए रखने के लिए आपको पर्याप्त नींद लेना बहुत जरूरी होता है। यह कई शोधों में साबित किया जा चुका है कि प्रत्येक दिन पर्याप्त नींद लेने से हमारे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता में आश्चर्यजनक बढ़ोतरी होती है। रोग प्रतिरोधक क्षमता सही होने पर आप कई तरह की स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से आसानी से बच सकती हैं। इसके साथ-साथ आपके गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए भी आराम के क्षण बहुत जरूरी होते हैं। इसलिए अपनी नींद से समझौता बिल्कुल ना करें और अपनी पर्याप्त नींद अवश्य पूरी करें।

संतुलित आहार
गर्भावस्था के दौरान संतुलित आहार लेना आवश्यक है। आप जो खाती हैं उसी से आप के साथ साथ आपके बच्चे को भी पोषक तत्व प्राप्त होते हैं। गर्भावस्था में अपने बच्चे को सही पोषण देने के लिए संतुलित आहार आपकी पहली प्राथमिकता होनी चाहिए। कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए संतुलित आहार का लेना आपके लिए और भी ज्यादा जरूरी हो गया है। सही आहार और सभी तरह के विटामिंस आपके शरीर में रोगों से लड़ने की क्षमता को बढ़ा देते हैं। इसलिए बिना देर किए अपने विशेषज्ञ से डाइट चार्ट अवश्य प्राप्त कर लें और उसी चार्ट के अनुसार संतुलित आहार का सेवन करें।

यह भी पढ़ेंः

Comments are closed.