IVF process: आईवीएफ प्रक्रिया से पहले क्या करें और क्या नहीं! जरूर पढ़ें

आईवीएफ उपचार के दौरान आपको क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए, इस बारे में इंटरनेट और उसके आसपास बहुत सारी जानकारी उपलब्ध है। उस सभी जानकारी को याद रखना मुश्किल और भ्रमित करने के साथ-साथ समय लेने वाली भी हो सकती है। तो, आपकी सुविधा के लिए, यह लेख आपको उस की एक उपयोगी सूची का वर्णन करता है और इसके बारे में सभी को संबोधित करता है। वर्तमान में आप आईवीएफ उपचार से गुजर रहे हों या आप प्रजनन उपचार से गुजरने की योजना बना रहे हों, आप इस लेख को पूरा पढ़ना निश्चित रूप से फायदा पहुंचाएगा।

आईवीएफ उपचार के दौरान किन बातों का रखें ध्यान

1. प्रक्रिया को समझें- आईवीएफ प्रक्रिया के बारे में जागरूक होना बहुत जरूरी है क्योंकि यह गर्भावस्था को प्राप्त करने के लिए प्रक्रियाओं के अनुक्रम के साथ ही एक जटिल प्रक्रिया है। सामान्यतः आईवीएफ के एक चक्र को पूरा करने में दो सप्ताह लगते हैं। प्रक्रिया में महिला के अंडे को अंडाशय से निकाला जाता है और एक शुक्राणु के साथ निषेचित किया जाता है जिसके परिणाम स्वरूप एक भ्रूण बनता है। एक बार भ्रूण विकसित होने के बाद, इसे फिर से गर्भाशय में वापस स्थानांतरित कर दिया जाता है, जिसके परिणाम स्वरूप गर्भावस्था होती है। आप पूरी प्रक्रिया के बारे में अपने विशेषज्ञ से जरूर सलाह करें।

3. निर्देशों का पालन करें- अपने भोजन के विकल्प, नींद के पैटर्न और आईवीएफ उपचार के लिए नियमित रूप से आवश्यक दवाइयों के बारे में डॉक्टर की सलाह का पालन जरूर करें।

4. बीमा पॉलिसियों पर नजर रखें- जब भी कोई दंपति आईवीएफ के माध्यम से बांझपन के इलाज की योजना बनाता है, तो सबसे पहली और महत्वपूर्ण बात, जिसके बारे में वे सोचते हैं वो इसमें शामिल लागत है। आमतौर पर आईवीएफ एक महंगा विकल्प है, लेकिन आपको इसके संबंध में अपने विशेषज्ञ से खुल कर बात कर लेनी चाहिए। कई सेंटर आज आसान किस्तों का विकल्प देते हैं जो कि बहुत फायदेमंद होता है। साथ ही आप अपनी हेल्थ पाॅलसी देने वाली कंपनी से भी बात कर सकते हैं कि आपकी पाॅलसी में ये कवर होता है या नहीं।

5. तनाव में न रहें- जैस ही आप आईवीएफ उपचारों पर विचार करने के बारे में अपना मन बनाना शुरू करते हैं, सभी प्रकार के तनावों से आपको दूरी बना लेनी चाहिए। ध्यान लगाकर व योग के माध्यम से तनाव से लड़ाई के लिए सुधारात्मक कदम उठाएं, सकारात्मक संगीत के साथ-साथ प्रेरणादायक वीडियो देखना भी तनाव को कम कर सकता है।

क्या न करें-

1. धूम्रपान, शराब का सेवन या ड्रग्स लेने से दुरी बहुत महत्वपूर्ण है ताकि आईवीएफ प्रक्रिया की सफलता दर सुनिश्चित हो सके। इसलिए हर कीमत इन सबसे दूर रहें।
2. अपने स्वास्थ्य की स्थिति की उपेक्षा न करें कई महत्वपूर्ण चीजों को ध्यान रखते वक्त आप खुद की देखभाल करना भूल सकते हैं जोकि बिल्कुल गलत बात है। फिट रहने की कोशिश करें, स्वास्थ्यवर्धक भोजन करें, संतुलित आहार लें और आवश्यक विटामिन को न भूलें।
3. विशेषज्ञ की सलाह को हल्के में न लें – विशेषज्ञ चिकित्सक की सलाह का जरूर का पालन करें। वे अधिक जानकार हैं, आपके अंदर और बाहर की प्रक्रिया को जानते हैं। विशेषज्ञों की बातों को ध्यान से सुनें और उसका पालन करें।

यह भी पढ़ेंः