मकर संक्रांति (Makar Sankranti 2021) पर जरूर करें ये काम मिलेगा बहुत लाभ!

मकर संक्रांति या संकरात पर्व का हिंदू धर्म में बहुत अधिक महत्व है, इस पवित्र दिन गंगा स्नान, व्रत, कथा, दान और भगवान सूर्य देव की पूरे मन से पूजा करने से बहुत शुभ फलों की प्राप्ति होती है। देश में कुछ स्थानों पर इस पर्व को खिचड़ी के नाम से भी जाना जाता है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार मकर संक्रांति के दिन सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेष करते हैं। इस समय सूर्य उत्तरायण होते हैं। इस साल 2021 में सूर्य का मकर राशि में आगमन गुरुवार 14 जनवरी को सुबह 8 बजकर 14 मिनट पर हो रहा है। इस साल 14 जनवरी को दोपहर 2 बजकर 38 मिनट तक का समय संक्रांति से संबंधित धार्मिक कार्यों के लिए सबसे अच्छा रहेगा।

मकर संक्रांति के दिन कैसे करें सूर्य नारायण की पूजा
सबसे पहले इस शुभ दिन सुबह जल्दी उठकर स्नान करें, स्नान करने के बाद एक साफ बर्तन में जल, लाल फूल, तिल के कुछ दाने और अक्षत डाल कर सूर्य भगवान को अध्र्य दें। साथ आप सूर्य नारायण के बीज मंत्र का पूरी श्रद्धा के साथ जाप करें। मकर संक्रांति के दिन सूर्य भगवान को जल अर्पित करने के बाद गीता का पाठ करने से आपको शुभ फलों की प्राप्ति होती है। इस दिन दान करने का विशेष महत्व होता है। इस दिन आप किसी जरूतमंद को अपनी क्षमता के अनुसार दान अवश्य करें।

क्या आप भी करते हैं गरीबों की मदत? इन बातों का ध्यान रखने से ही मिलेगा पुण्य! – Daan kaise kare – daan punya for happy world

मकर संक्रांति के दिन अन्न, घी, गेंहू, तिल, कम्बल आदि का दान कर सकते हैं। मान्यताओं के अनुसार इस दिन तिल का दान करने से शनि भगवान की विशेष कृपा होती है। इस दिन घर में खिचड़ी जरूर बनाएं, इस दिन खिचड़ी का सेवन करने से विशेष लाभ मिलता है। मकर संक्रांति के दिन सबसे पहले खिचड़ी भगवान का समर्पित करने फिर उसे पूरे परिवार को प्रसाद की तरह ग्रहण करनी चाहिए।

यह भी पढ़ेंः