अच्छी नींद के लिए अपनाएं ये पांच कारगर उपाय

यदि आप थके हुए हैं, तो कुछ अतिरिक्त आराम पाने के लिए अंतराल एक अच्छा तरीका है, लेकिन झपकी का बहुत लंबा होना रात में नींद को कठिन बना देगा। सबसे अच्छा होता है जब आप झपकी 20 मिनट से कम लेते हैं। इससे अधिक लंबे समय तक सोने से रात में सोने में बाधा उत्पन्न हो सकती है। ज्यादा आराम के लिए एक शांत, अंधेरे कमरे में झपकी लें। दिन में बहुत देर तक झपकी लेने से बचें क्योंकि यह रात के आराम को भी नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकता है।

यदि आप सोने में परेशानी महसूस कर रहे हैं, तो सबसे बुरी चीजों में से एक कि कई लोग लगातार घड़ी देखते रहते हैं। सेकंड, मिनट, या घंटों को देखते हुए कई बार आपको लगातार जागते रहना चिंता भी पैदा कर सकता है, ऐसे कई बुरे ख्याल भी आपके ज़हन में आ सकते हैं। घड़ी देखने के प्रलोभन से बचें। इसके बजाय, आप नींद लाने के लिए कुछ अन्य अपाय कर सकते हैं। जैसे कि आप किताब पढ़ सकते हैं, घर के कुछ हल्के काम कर सकते हैं, या सोने में मददगार संगीत सीमित अवधि के लिए सुन सकते हैं, इससे आपको अच्छा महसूस होगा।

गर्दन का दर्द एक आम कारण है जिससे कई लोगों को नींद आने में परेशानी होती है। उचित मुद्रा बनाए रखने से गर्दन के दर्द की संभावना कम हो सकती है और आपको बेहतर नींद लेने में मदद मिल सकती है। सुनिश्चित करें कि आपकी गर्दन आरामदायक व सही स्थिति में है। इसका मतलब है कि आपकी नाक आपके शरीर के केंद्र के साथ पंक्तिबद्ध होनी चाहिए। अपने पेट पर सोने से बचने की कोशिश करें। इस स्थिति में आपको सिर को साइड में घुमाना पड़ता है जिससे दर्द हो सकता है और नसों पर दबाव पड़ सकता ळें

एलर्जी से बचें इससे नींद में बाधा उत्पंन होती है। एलर्जी के लक्षणों में छींकना, या खासना शामिल होता है। सप्ताह में कम से कम एक बार बिस्तर जरूर बदलें, और धूल के कण को हटाने के लिए बिस्तर को समय-समय पर साफ करना बिल्कुल न भूलें। अगर आप जल्दी-जल्दी एलर्जी की चपेट में आ जाते हैं तो आपको कई बातों का ध्यान रखना चाहिए। जैसे कि धूल, प्रदूषण या फिर बिस्तर में मौजूद गंदगी कुछ लोगों को घर में मौजूद पालतू जानवरों से भी समस्या हो सकती है, कुत्ते और बिल्ली के फर के संपर्क को कम करने के लिए पालतू जानवरों को बेडरूम से बाहर रखें।

कई लोग जागने के लिए सुबह की कॉफी पर भरोसा करते हैं, जो कुछ हद तक ठीक है लेकिन दोपहर के बाद कैफीन का सेवन नींद की समस्याओं में योगदान दे सकता है। अच्छी नींद की आदतों को बनाए रखने के लिए, दोपहर और शाम को कैफीन से बचें। कैफीन कई खाद्य पदार्थों, पेय पदार्थों और यहां तक कि कुछ दवाओं में भी पाया जाता है। कैफीन के कुछ स्रोतों में चॉकलेट, चाय, कुछ दर्द निवारक, कुछ वजन घटाने की गोलियां आदि शामिल हो सकती है, यदि आपको नींद की समस्या हो रही हो तो अपने विशेषज्ञ से अपने एक दिन में कैफीन मात्रा के बारे में जरूर बताएं।

यह भी पढ़ेंः