ये घरेलू उपाय दूर भगा देंगे आपकी रूसी को

रूसी एक ऐसी समस्या है जिससे अधिकतर लोग कभी न कभी परेशान हुए होंगे। रूसी के ज्यादातर मामलों में इसे नियंत्रित किया जा सकता है। नियमित रूप से शैंपू का उपयोग करके हल्की रूसी का इलाज किया जा सकता है। जबकी रूसी के गंभीर मामलों में विशेष औषधीय शैंपू की आवश्यकता होती है साथ ही विशेषज्ञ की सलाह की जरूरत पड़ सकती है। गंभीर मामलों में इलाज शुरू करने से पहले ही विशेषज्ञ इस बाता का पता लगाते हैं कि वास्तव में रूसी का कारण क्या है।

आइए जानते कुछ ज्यादातर सामने आने वाले कारणों पर:
तैलीय त्वचा का होना, यह रूसी के अधिक सामान्य कारणों में से एक है। यह स्थिति आमतौर पर तेल ग्रंथियों के अत्यधिक सक्रिय रहने की वजह से हो सकती है। शैम्पू का कम उपयोग करना भी कई बार रूसी को जन्म दे सकता है। बालों की अनियमित धुलाई से मृत त्वचा कोशिकाओं का निर्माण हो सकता है, जिससे रूसी हो सकती है। रूखी त्वचा सिर पे रूसी होने का बड़ा कारण है। शुष्क त्वचा के कारण सिर पर रूसी हो जाती है।

घरेलू उपाय

  • नारियल तेल रूसी को हटाने में बहुत फायदेमंद होता है। इसके लिए आपको अपने स्कैल्प में नारियल तेल की मालिश करनी होगी। हल्के शैम्पू से धोने से पहले इसे लगभग एक घंटे के लिए छोड़ दें। आपको इसे सप्ताह में 2 बार दोहराना होगा।

  • एलोवेरा बायोएक्टिव यौगिकों का एक समृद्ध स्रोत है जिसका उपयोग त्वचा विकारों के इलाज के लिए किया जा सकता है। एलोवेरा में मौजूद तत्व किसी भी फंगल संक्रमण से लड़ने में मदद कर सकते हैं, इसमें रूसी भी शामिल है। अपनी स्कैल्प में कुछ एलोवेरा जेल की मालिश करें। इसके बाद करीब एक घंटे बाद धो लें। इससे आपको रूसी में फायदा नजर आएगा।

  • लहसुन के प्राथमिक बायोएक्टिव घटक एजीन और एलिसिन हैं। लहसुन के एंटिफंगल गुण संक्रमण को कम करने में प्रभावी हो सकते हैं जो रूसी का कारण बनते हैं। लहसुन को छीलें और पीस लें, इस पाउडर को जैतून के तेल के साथ गर्म कर लें। 5 मिनट के लिए मिश्रण गरम करें, इसे ठंडा करें और अपने स्कैल्प पर लगाएं और 30-45 मिनट में धोलें। ऐसा आप सप्ताह में दो बार कर सकते हैं।

  • नीम का अर्क फंगल संक्रमण से निपटने के लिए उपयोग किया जाता है। उनके ऐंटिफंगल गुण त्वचा और जलन को कम करने में मदद कर सकते हैं। इसके लिए आप नारियल तेल के साथ नीम के तेल की कुछ बूदें मिलाएं। अपने स्कैल्प में मिश्रण की मालिश करें और इसे 30-45 मिनट के लिए छोड़ दें। इसके बाद सादे पानी से अच्छी तरह से धो लें।

  • कई अध्ययनों में यह बात सामने आई है कि प्याज में फाइटोकैमिकल यौगिक होते हैं। जो रूसी से निपटने में मदद कर सकते हैं। इसका रस निकालने के लिए एक प्याज को ब्लेंड करें, इसके बाद अपने सकैल्प पर हल्के हाथों से मालिश करें। इसे एक घंटे के लिए छोड़ दें और इसे धो लें। ऐसा आप सप्ताह में दो बार कर सकते हैं। इससे आपको रूसी को हटाने में बहुत मदद मिलेगी।

यह भी पढ़ेंः