हाजमा नहीं रहता है ठीक तो आजमाएं ये आसान उपाय

रात को देर से खाना खाने, गरिष्ठ व मसालेदार भोजन करने व बारिश के दिनों में अक्सर लोगों को गैस, बदहजमी, पेट दर्द, खट्टी डकार आदि की समस्या होने लगती है। दरअसल ऐसा पाचन तंत्र गड़बड़ाने के कारण होता है। जानिए ऐसे उपाय जो आपके डायजेशन सिस्टम को फौरन दुरुस्त करने का काम करेंगे, पाचन तंत्र मजबूत करने के उपाय (digestion problem solution) :

व्रत के फायदे
कहा जाता है कि हर व्यक्ति को सप्ताह में एक दिन का व्रत जरूर रखना चाहिए। व्रत के दिन संतुलित चीजें लेने से पेट की गड़बड़ियां ठीक होती हैं। एक तरह से व्रत पाचन तंत्र को रीसेट करने का काम करता है। इसलिए जब भी पेट गड़बड़ी करे तो एक दिन का व्रत रखें ताकि पाचनतंत्र को आराम मिले और वो व्यवस्थित हो सके। 

ठंडी चीजों से परहेज
पाचन तंत्र जब धीरे कार्य कर रहा हो तो ठंडे पेय पदार्थों को लेने से बचें। पानी भी बाहर रखा हुआ या मटके का ले सकते हैं। फ्रिज की चीजों से खासतौर पर परहेज करें। अदरक नींबू की चाय लेना फायदेमंद रहेगा।

तांबे के बर्तन में पानी
तमाम रिसर्च में ये सामने आ चुका है कि तांबे के बर्तन में पानी पीने के चमत्कारी असर होते हैं। खासतौर पर ये पेट के लिए काफी लाभकारी है। ध्यान रखें कि बर्तन जमीन पर न रखें। इसे किसी लकड़ी की मेज या तख्ते पर ही रखें। साथ ही इसमें दूध दही आदि का सेवन न करें। ऐसे में नुकसान हो सकता है।

सुबह सुबह घूमने के फायदे
यदि पाचनतंत्र की समस्या अक्सर रहती है तो सुबह व शाम वॉक जरूर करें। शाम की वॉक खाने के बाद करें। सुबह के समय चलने की स्पीड तेज रखें, लेकिन शाम की वॉक में ज्यादा तेजी न करें। शाम की वॉक के बाद पांच मिनट वज्रासन में बैठें और धीरे धीरे लंबीं सांस लें और छोड़ें। ऐसा नियमित करने से पाचन तंत्र की समस्या कुछ ही समय में आपसे कोसों दूर चली जाएगी।

योग व प्राणायाम भी है कारगर
रोजाना सुबह योग व प्राणायाम करने से भी पाचन तंत्र दुरुस्त होता है। पाचन की समस्याओं को पूरी तरह ठीक करने के लिए आप त्रिकोणासन, पश्चिमोत्तानासन और पवनमुक्तासन करें। कुछ ही समय में आपको लाभ महसूस होने लगेगा।

अच्‍छी तरह चबाकर खाएं
अक्सर लोगों की आदत होती है कि वे खाना जल्दी जल्दी खाते हैं। लेकिन इसे देर तक चबाकर खाना चाहिए। आयुर्वेद के अनुसार हर व्यक्ति को एक निवाला कम से कम 30-35 बार चबाकर खाना चाहिए। इससे खाना आसानी से पच जाता है और पाचन तंत्र मजबूत होता है।

देर रात खाने की आदत बदलें
आजकल की लाइफस्टाइल ने लोगों की आदतों को भी खराब कर दिया है, यही कारण है कि कम उम्र में भी लोग तमाम परेशानियों से घिरे रहते हैं। इसी क्रम में देर से खाना भी लोगों की आदत का हिस्सा बन गया है। अक्सर देर से खाने के बाद लोग सोने चले जाते हैं या फिर टीवी देखना या व्यक्तिगत काम करने में उलझ जाते हैं। ऐसे में खाने को पचने का समय नहीं मिलता। इस कारण गैस, एसिडिटी, उल्टी, दस्त, अपच जैसी समस्याएं आए दिन देखने को मिलती है। अगर पाचन तंत्र की इन परेशानियों से बचना है तो डिनर समय से करें।

फाइबर रिच डाइट
फाइबर से भरपूर डाइट पाचन तंत्र को मजबूत करने का काम करती है। इसलिए रोजाना दिन में अधिक से अधिक फाइबर रिच डाइट लें। ऐसे में रेशेदार फल, साबुत अनाज, सब्जियां, फलियां वगैरह खाएं।

गुनगुना पानी मददगार
पेट की समस्याओं को नियंत्रित करने के लिए गुनगुना पानी भी मददगार है। खाने के करीब आधा घंटे बाद गुनगुना पानी पीने से पाचन तंत्र को खाना पचाने में मदद मिलती है। इससे पाचन शक्ति मजबूत होती है। अगर संभव हो तो इसे पूरे दिन पिएं, ऐसे में पेट बाहर निकलने की समस्या भी नहीं सताती। यदि पूरे दिन गुनगुना पानी नहीं पी सकते तो कम से कम सुबह खाली पेट और दोनों समय खाने के आधे घंटे बाद जरूर पिएं।

यह भी पढ़ेंः