खतरनाक ऐप से ऐसे बचायें अपने कीमती फोन को

एंड्रॉइड और आईओएस पर हम कई बार ऐसे ऐप डाउनलोड कर लेते हैं जो हमारे फोन को नुकसान पहुंचाते हैं। कई उपयोगकर्ता सुरक्षा को गंभीरता से नहीं लेते हैं और वे खुशी से खतरनाक ऐप डाउनलोड कर लेते हैं। ऐसे में वाइरस आपके मोबाइल में गड़बड़ी पैदा कर देते हैं। आपका फोन जल्दी बैट्री खोने लगता है, चार्जिंग में लगने वाला समय बढ़ जाता है और साथ ही फोन धीमा हो जाता है। कई बार हम मान लेते हैं कि ऐप सही ही होगा और बिना कोई रिव्यू व अन्य कसौटियों को चेक किए उसे डाउनलोड कर लेते हैं।

रिव्यूज को न करें अनदेखा
यह एक आसान प्रक्रिया है इसके लिए आपको कुछ करने की जरूरत नहीं है बस ऐप के रिव्यूज़ को जरूर पढ़ें। ऐसा करने से आपको उस ऐप को पहले भी डाउनलोड कर चुके लोगों की राय मिल जाएगी। कई बार यही राय आपको ऐप की सही और सटीक जानकारी देने में बहुत सहायक साबित होती है। ऐप की रेटिंग को देख कर भी आप उस ऐप को पसंद या नापसंद करने वालों की संख्या को जान सकते हैं लेकिन सही यही रहेगा कि आप फोन के रिब्यूज़ को ध्यान से पढ़ें। यह कदम आपके फोन को गलत ऐप डाउनलोड करने से बचा सकता है।

यह भी पढ़ें: चाहते हैं मोबाइल की बैट्री लाइफ बढ़ानाः अपनाएं यह तरीके

ऐप के बारे में पढ़ें
आपके द्वारा किसी ऐप को डाउनलोड करने से पहले उसकी समीक्षा पढ़ने के साथ-साथ ऐप का विवरण भी पढ़ना चाहिए। उसे पढ़ कर आप ऐप के बारे में सही प्रकार से जान पाएंगे। कई बार हम बिना पढ़े ही डाउनलोड का बटन दबा देते हैं, यह तरीका बिल्कुल गलत है।

ऐप डेवलपर
यदि आपको किसी ऐप की प्रामाणिकता के बारे में संदेह है, तो आप डेवलपर को देखकर ऐप को सत्यापित करने का प्रयास कर सकते हैं। Google Play और ।चचसम Apple App Store दोनों ही में ऐप के नाम के पास उस ऐप के डेवलपर को अंकित करते हैं, आप उस पर क्लिक करके (या टैप करके) ऐप डेवलपर के बारे में जान सकते हैं। इसके साथ ही उस डेवलपर के द्वारा डेवलप किए गए ऐप के बारे में जान सकते हैं।

निष्कर्ष
खतरनाक ऐप्स से खुद को बचाने के लिए सामान्य सा ज्ञान आपको फायदा पहंचा सकता है। इसीलिए सबसे पहले उपर लिखे तथ्यों की जांच के साथ-साथ एंटीवायरस की भी सुरक्षा आपके फोन पर होना जरूरी है। उपर लिखे कारकों में से कोई एक ही कारक आपको स्पष्ट रूप से नहीं बता सकता कि यह ऐप सही है या नहीं। इसीलिए जरूरी है कि आप सभी कारकों पर विशेष ध्यान दें। अगर आपको ऐप इन कारकों में खरा उतरता नहीं दिख रहा है तो ऐप डाउनलोड करने से पहले सही से विचार कर लें। अपने विश्वास के लायक पुष्टि किए बिना ऐप डाउनलोड करने से बचें। इसके साथ- साथ साइबर हमले के खिलाफ हमेशा चैकस रहें। वाई-फाई का चुनाव भी सही प्रकार से करें। एक असुरक्षित वाई-फाई कनेक्शन पर लॉग इन करना बहुत समझदारी नहीं है, खासकर यदि आप के फोन पर संवेदनशील जानकारी हैं जैसे कि आपकी व्यक्तिगत जानकारियां या बैंक अकाउंट आदि। सावधान रहें कि आप किस सामग्री को डाउनलोड करते हैं और आप अपने डिवाइस से किन साइटों को खोलते हैं।

किसी वेबसाइट से ऐप डाउनलोड करने से बचें ।Apple, Google Play या डिवाइस निर्माता के ऐप स्टोर से ही ऐप डाउनलोड करें। इसके साथ ही यह भी सुनिश्चित करें कि आपका फोन पर ऑपरेटिंग सिस्टम का अप-टू-डेट संस्करण हो, समय-समय पर फोन को अपडेट करते रहें।

खतरनाक ऐप से ऐसे बचायें अपने कीमती फोन को
Hindi magazines in India/Online magazines India

यह भी पढ़ें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *