कान के नीचे कट जाने से हैं परेशान, इन बातों का रखें ध्यान

इन दिनों देर तक मास्क पहनने से बच्चों के कान के नीचे कट जाने की शिकायत देखने को मिल रही है। कई बार खेलते समय या कान तेज से खिच जाने पर भी कान के बाहरी हिस्से में कट या घाव हो जाते हैं। अधिकतर मामलों में साधारण प्राथमिक उपचार से ही घर पर इसका इलाज किया जा सकता है। इलाज के लिए कुछ सुझाव विशेषज्ञों द्वारा सुझाये गए हैं, आइए जानते हैः

विशेषज्ञों के सुझाव

सबसे पहले घबरायें नहीं, और बच्चे को भी शांत रखें। अगर आप शांत और आश्वस्त रहेंगे तो आपके बच्चे परेशान या घबरायेंगे नहीं।

सबसे पहले अपने हाथों को अच्छी तरह धो लें।

अगर खून बह रहा है तो उसको रोकने के लिए एक साफ कपड़े या पट्टी से कुछ मिनट तक दबाव डालें।

कटी हुई जगह को डेटॉल या सेवलॉन से अच्छी तरह से साफ कर लें। ध्यान रखें कि घाव को गंदे पानी या कपड़े से साफ़ न करें। कान के नीचे कट जिसे अच्छी तरह से साफ नहीं किया जाता है, वह संक्रमण का कारण बन सकता है।

एंटीसेप्टिक लोशन या क्रीम लगाएं।

कान के नीचे कट बड़ा होने पर ड्रेसिंग करें और बार-बार ड्रेसिंग बदलें।

हर दिन कट वाली जगह की जांच करें और इसे साफ और सूखा रखें।

कट वाली जगह फूंकें नहीं। इससे कीटाणु पनप सकते हैं।

चोट के कारण होने वाले कट या घाव पर आइस पैक लगाना फायदामंद हो सकता है। आइस पैक बनाने के लिए एक प्लास्टिक बैग में बर्फ के टुकड़े डालें जो ऊपर से सील हो जाता हो।

दाग-धब्बों को रोकने में मदद करने के लिए ठीक हुए कट और घावों पर सनस्क्रीन का प्रयोग करें। नारियल का तेल लगाना भी फायदेमंद हो सकता है।

अपने बच्चे को सिखाएं कि कान में कोई वस्तु न डालें, जैसे कि रुई या पेंसिल।

अपने बच्चे को खेल गतिविधियों के लिए सुरक्षात्मक ईयर गार्ड या हेलमेट पहनना सिखाएं जिससे चोट को बचाया जा सकता है।

मास्क को लगातार पहनने के बाद घर वापस आने पर कान के नीचे वाली जगह को अच्छे साफ कर नारियल का तेल या माश्चराइजर लगाना फायदेमंद हो सकता है।

विशेषज्ञ को कब कॉल करना चाहिए?

बहुत ज्यादा खून बह रहा हो और 5 से 10 मिनट के सीधे दबाव के बाद भी रुकें नहीं।

1/2 इंच से अधिक गहरे या लंबे कट या घाव होने पर, तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

सुनने में किसी परेशानी का सामना करने पर बिना देर किए विशेषज्ञ से संपर्क करें।

असहनीय दर्द होने पर।

संक्रमण के लक्षण दिखनें पर

आप सांझ संजोली पत्रिका से इस्टाग्राम पर जुड़ सकते हैं। आपको बेहतर और सटीक जानकारी प्रदान करना ही हमारा लक्ष्य है।