शराब से कैसे हो जाता है नशा? शरीर में जाते ही क्या करती है शराब!

क्या आपने कभी सोचा है कि शराब (alcohol) पीने के बाद आप अचानक से इतना नशा क्यों महसूस करते हैं? एक बार शराब आपके पाचन सिस्टम में दाखिल होने के बाद, आपका शरीर शराब को अहमियत देता है। आपका पाचन तंत्र अन्य सभी काम छोड़कर शराब को पचाने में लग जाता है। इसका मतलब ये है कि आपका पाचन तंत्र अल्कोहल की देखभाल के लिए किसी और चीज को मेटाबोलाइज करना बंद कर देता है, यह शराब के दुष्परिणाम दिखने का पहला चरण होता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि हमारे शरीर में शराब के लिए कोई स्थान नहीं है, शरीर सबसे पहले शराब (effects of alcohol) को पाचन तंत्र से बाहर निकालने में लग जाता है। आपके मन में प्रश्न आता होगा कि शराब का असर खून में कब तक रहता है, (disadvantages of drinking alcohol) इसका उत्तर जानने के लिए आपको यह जानना जरूरी है कि शरीर में जाते ही शराब का क्या होता है।

जैसे ही आप शराब पीना शुरू करते हैं तो इसका 20 प्रतिशत हिस्सा आपकी पाचन प्रणाली में अवशोषित हो जाता है और सही आपके रक्तप्रवाह में भी जाता है। इससे कुछ ही मिनटों में शराब आपके मस्तिष्क तक पहुंच जाती है और जिससे आपको नशे का अनुभव होता है। कोई अन्य खाद्य या पेय ऐसा करने में सक्षम नहीं है। इसके बाद बची हुई शराब आपके आंतों में जाती है और वहां अवशोषित हो जाती है। शराब की कुछ मात्रा पसीने, लार, मूत्र और आपकी सांस के माध्यम से बाहर आती है। जिसे आप महसूस करते हैं। शराब से कौन सा अंग प्रभावित होता है, यह बात लगभग सभी जानते हैं कि आपके लिवर को शराब पचाने के लिए बहुत कार्य करना पड़ता है। यही कारण है कि अधिकतर लोगों को बहुत अधिक शराब के सेवन से लीवर की समस्या हो जाती है। ऑक्सीकरण नामक प्रक्रिया के माध्यम से अल्कोहल को डिटॉक्स किया जाता है और रक्त से हटाया जाता है। यह प्रक्रिया शराब को कोशिकाओं और अंगों को जमा होनें और उन्हें नष्ट करने से रोकती है।

शराब की दीवानगी न पड़ जाए सेहत पर भारी!

शराब पीने से होने वाली बीमारियां

शराब आपके शरीर को बहुत नुकसान पहुंचाती है, जिस किसी ने भी कभी हैंगओवर का अनुभव किया है वह इस बात से सहमत होगा कि शराब का उपयोग हमेशा अच्छा नहीं लगता है। कई बार आप असहज महसूस कर सकते हैं, लेकिन क्या आपको पता है कि इससे पैदा हुए खतरे कहीं आगे जा सकते हैं। यह केवल उन लोगों पर लागू नहीं होते हैं जो अत्यधिक मात्रा में पीते हैं, बल्कि किसी भी मात्रा में शराब का सेवन हानि ही पहुंचाता है। जैसे कि भ्रम की स्थिति, याददाश्त की समस्या, एकाग्रता की समस्या, बेहोशी, सांस की परेशानी इसके साथ-साथ लंबे समय तक शराब का सेवन आपके मस्तिष्क, यकृत (सिरोसिस, स्टीटोसिस, हेपेटाइटिस, फाइब्रोसिस), हृदय (उच्च रक्तचाप, कार्डियोमायोपैथी, स्ट्रोक) से संबंधित समस्याएं पैदा कर सकता है। इसीलिए विशेषज्ञ हमेशा आपको शराब के सेवन से बचने की ही सलाह देंगे।