आपके इयरफोन की अच्छी केयर के लिए जरूरी हैं ये 6 उपाय

प्रयोग के बाद सम्भालना एक कला
आपके मंहगे इयरफोन या हेडफोन को प्रयोग के बाद सही तरह से रखना उनको सम्भालने की पहली शर्त होती है। अधिकतर इयरफोन अपने केस के साथ आते हैं, आपका भी इयरफोन स्टोरेज केस या पाउच के साथ आया होगा। स्टोरेज केस में जिस तरह आपका इयरफोन आया था, आपको प्रयोग के बाद उसी तरह अपने इयरफोन को रख देना चाहिए। ये जरूरी है कि इयरफोन अगर वायर वाला हो तो उसकी केबल ठीक से लपेटी गई हो। क्योकि कई लोग वायर को सही प्रकार से नही मोड़ते हैं जिसकी वजह से इयरफोन की केबल खिचने या अधिक दबाव पड़ने की वजह से खराब हो जाती है।

इयरफोन/हेडफोन की बेहतर सफाई
आपको हेडफोन या इयरफोन के साथ मिलने वाले मैनुअल को ध्यान से पढ़ना चाहिए। ये जरूरी नहीं है कि सभी हेडफोन की साफ-सफाई एक ही तरह से की जाती हो। कई बार लोग इयरफोन को लगा कर वर्कआउट या जिम में पसीना बहाते हैं, ऐसे में आपके इयरफोन में वो पसीना और गंदगी स्टोर हो सकती है। अधिक समय तक सही तरह से साफ नहीं होने पर यही गंदगी आपके इयरफोन के वाॅइस क्वालिटी को प्रभावित कर सकती है। अच्छा होगा कि आप हर प्रयोग के बार इयरफोन को सही तरीके साफ करके स्टोर करें, इसके लिए आप साफ काॅटन के कपड़े का इस्तेमाल कर सकते हैं।

इयरफोन की जांच
इयरफोन के प्रयोग के साथ-साथ उसकी जांच भी एक करते रहना चाहिए। लगातार इस्तेमाल से कई बार इयरफोन की केबल में खिचाव के कारण टूट की संभावना होती है। समय रहते अगर आप इसको देख लेते हैं तो सर्विस सेंटर पर जाकर इसे ठीक करवा सकते हैं। ज्यादा खराबी आने के बाद या तो ज्यादा खर्चा होता है या फिर नया इयरफोन लेना पड़ता है। इससे बचने के लिए जांच जरूरी हो जाती है। इसके साथ ही इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि बार-बार इस्तेमाल के बाद कान का वैक्स आपके हेडफोन का खराब न करे, इसके लिए आपको समय-समय पर अपने हेडफोन की जांच करते रहना चाहिए।

हेडफोन में पानी
कोई भी नहीं चाहेगा कि उसके मंहगे इयरफोन पानी या अधिक नमी की वजह से खराब हो जाएं। आपको ये ध्यान देना चाहिए कि आपके इयरफोन में नमी या पानी बिल्कुन न जाने पाए। कई बार लोग वर्कआउट करते समय इयरफोन का प्रयोग करते हैं, लेकिन ये भूल जाते हैं कि इयरफोन में आपका पसीना जा सकता है, जिसकी वजह से इयरफोन की क्वालिटी खराब हो सकती है। अगर व्यायाम के दौरान पसीने से या बारिश में आपके इयरफोन भीग गए हों तो बिना देर किए उन्हें एक सूखे तौलिये से सुखाएं। कुछ लोग इयरफोन को चावल के कंटेनर में कुछ समय के लिए रख देते हैं। ये तरीका कितना काम करता है कहा नहीं जा सकता, लेकिन एक बात तो तय है कि आपको अपने इयरफोन या हेडफोन का पानी से जरूर बचाकर रखना चाहिए।

इयरफोन क्वालिटी सुधारें
सही तरह से इस्तेमाल करने पर इयरफोन कई सालों तक खराब नहीं होते हैं। फिरभी इयरफोन में इस्तेमाल होने वाली फोम, रबर या सिलिकॉन समय के साथ खराब हो जाते हैं। जिसकी वजह से आवाज की क्वालिटी में फर्क पड़ता है। इसके लिए आपको अपके इयरफोन की जांच करनी चाहिए और फोम या रबर में कुछ भी खामी नजर आने पर तुरंत अपने सर्विस सेंटर में जाकर उसे बदलवा लेना चाहिए। इस तरह से आपको अपने इयरफोन में नए जैसा अनुभव मिलता रहेगा।

हेडफोन की खरीद
हेडफोन या इयरफोन को खरीदने से पहले जरूरी है कि आप ये सोंच रखें कि आप आने वाले कुछ सालों तक इसी डिवाइस का प्रयोग करने वाले हैं। अच्छी कंपनी और अच्छे साउंड का चुनना ही आपके लिए बेहतर होगा। सस्ते के चक्कर में कई बार हमें क्वालिटी से संतोष करना पड़ता है, ऐसे हेडफोन आपका अधिक दिनों तक साथ नहीं दे पाते हैं।

यह भी पढ़ेंः