फिट रहने के लिए इन आदतों को कहें गुडबाय! how stay fit and fine

आपने अक्सर लोगों को कहते सुना होगा कि हम कितनी ही डायटिंग (Healthy diet) कर लें, लेकिन मोटापा कम नहीं होता। ऐसा इसलिए क्योंकि फिट रहने के लिए हम डाइटिंग तो कर लेते हैं, लेकिन अपनी आदतों को नहीं सुधारते। परिणामस्वरूप हमारी सारी मेहनत बेकार हो जाती है और मोटापा वैसा का वैसा ही बना रहता है। जानते हैं उन आदतों के बारे में जो हमारी मेहनत पर भारी पड़ती हैं और मोटापा बढ़ाने के लिए जिम्मेदार हैं।

देर तक सोना

सोना हर किसी को पसंद होता है। वास्तव में शरीर को स्वस्थ रखने के लिए आठ घंटे की नींद हर व्यक्ति के लिए पर्याप्त होती है। लेकिन यदि रोजाना दिनभर में आप इससे ज्यादा देर तक बिस्तर पर लेटे रहते हैं, या सोते हैंं तो ये आपके लिए हानिकारक है। इससे मोटापा तो बढ़ेगा, साथ ही हार्ट और डायबिटीज की समस्याएं भी परेशान कर सकती हैं।

बेड टी लेना

बहुत से लोगों को सुबह उठते ही बिस्तर पर चाय चाहिए होती है। ये आदत अगर आपकी भी है तो फौरन इसे बदल दीजिए। फिट रहने के लिए सुबह की शुरुआत हमेशा पानी पीकर करनी चाहिए। गुनगुना पानी हो तो और भी अच्छा है। सुबह खाली पेट पानी पीने से हमारे शरीर का तापमान और पोषक तत्व बैलेंस रहते हैं। जबकि चाय पीने से गैस और एसिडिटी की समस्याएं बढ़ती हैं। सही मायने में हर किसी को रोजाना सुबह खाली पेट एक से चार गिलास तक पानी पीना चाहिए। यदि एकदम से इतना पानी न पिया जाए तो पानी पीने की क्षमता को धीरे धीरे बढ़ाइए।

एक्सरसाइज न करना  

सुबह उठकर आप एक्सरसाइज करना चाहिए, ये बात आमतौर पर सभी जानते हैं, लेकिन एक्सरसाइज के लिए नींद खराब करनी पड़ती है यानी जल्दी उठना पड़ता है। अगर आप भी ऐसा कुछ सोचते हैं तो अपनी सोच को सुधार लीजिए। वर्ना कुछ देर का आलस आप पर जीवन भर भारी पड़ेगा। एक्सरसाइज न करने से हमारे शरीर की मांसपेशियों में अकड़न आने लगती है। धीरे धीरे ये अकड़न सर्वाइकल, आर्थराइटिस, कमरदर्द, साइटिका आदि तमाम परेशानियों की वजह बन जाती है। इसलिए रोजाना एक्सरसाइज करें और एक्सरसाइज में स्ट्रेचिंग को जरूर शामिल करें। इससे आपके शरीर की लगभग सभी मांसपेशियों में खिंचाव होगा, साथ ही आपका फैट भी कम होगा।

ज्यादा चलना फिरना न होना

आजकल ज्यादातर लोगों के पास अपना व्हीकल होता है, इस कारण उनका ज्यादा चलना फिरना भी नहीं हो पाता। लेकिन अगर चलेंगे नहीं तो आपका मोटापा तो बढ़ेगा, साथ ही घुटनों और कमर की समस्या, डायबिटीज व हार्ट संबन्धी तमाम समस्याओं का खतरा भी मंडराएगा। इसलिए रोजाना सुबह और शाम थोड़ी देर वॉक कीजिए। यदि संभव हो तो जॉगिंग कीजिए। यदि जॉगिंग के लिए किसी दिन बाहर न जा पाएं तो घर में ही एक जगह खड़े होकर जॉगिंग करें।

ब्रेकफास्ट स्किप करना

कई बार काम की जल्दबाजी में लोग अपने घर से बगैर ब्रेकफास्ट के ही भाग जाते हैं।सुबह उठकर ब्रेकफास्ट जरूर करें। यदि आप ऐसा नहीं करते हैं तो इससे आपके शरीर का मेटाबॉलिज्म खराब हो सकता है। ब्रेकफास्ट के जरिए आपके शरीर में ग्लूकोज पहुंचता है जो आपको पूरे दिन काम करने के लिए एनर्जी देता है, साथ ही कोलेस्ट्रॉल घटाने का काम करता है।

बहुत देर तक भूखे रहना

कुछ लोग मोटापा कम करने के चक्कर में खाना पीना छोड़ देते हैं या काफी कम कर देते हैं। आपको शायद न मालूम हो कि ज्यादा देर तक भूखे पेट रहने से भी वजन बढ़ता है और शरीर अंदर से कमजोर हो जाता है। हीमोग्लोबिन कम हो जाता है और गैस की समस्या होती है। डायटिंग का मतलब भूखा रहना बिल्कुल नहीं होता, बल्कि संतुलित आहार लेना होता है जो ज्यादा वसायुक्त और गरिष्ठ न हो। शरीर में पोषक तत्वों का पहुंचना बहुत जरूरी होता है। यदि डायटिंग कर रहे हैं तो थोड़ी थोड़ी देर में फल, सलाद, जूस, भुने चने आदि लेते रहें।

स्लिम और फिट दिखना है तो इन आदतों को कहें गुडबाय!
Hindi magazines in India / Online magazines India

यह भी पढ़ेंः