बिन टेस्ट इस तरह जानें कहीं आप तो नहीं डायबिटीज के शिकार? Warning symptoms of diabetes in Hindi

डायबिटीज के लक्षण और निदान, महिलाओं में शुगर के लक्षण, डायबिटीज के लक्षण और उपाय, यूरिन शुगर के लक्षण, पेशाब में शुगर के लक्षण, चीनी लक्षण, मधुमेह टाइप 2 के लक्षण, टाइप 1 मधुमेह के लक्षण,

मधुमेह की बीमारी ऐसी है जिसकी चपेट में आने के बाद इंसान पूरी उम्र इस बीमारी से जुड़े नियमों में बंध सा जाता है। डायबिटीज होने के कई कारण हो सकते हैं। अधिक मीठा खाने से लेकर खराब जीवनशैली व अनुवांशिकता भी इस बीमारी का कारण हो सकती है। इंसुलिन की अनुपस्थिति या शरीर में अपर्याप्त उत्पादन, या इंसुलिन का ठीक से उपयोग करने में शरीर की अक्षमता ही मधुमेह का कारण बनती है। डायबिटीज दो तरह की होती है टाइप 1 और टाइप 2, मधुमेह होने के कारणों में अधिक वजन या मोटापा भी शामिल होता है, एक खराब जीवन शैली, मधुमेह का पारिवारिक इतिहास, उच्च रक्तचाप और गुड कोलेस्ट्रॉल की कमी और ट्राइग्लिसराइड्स का ऊंचा स्तर भी इस बीमारी का कारण हो सकते हैं।

किसी व्यक्ति को डायबिटीज का पता तब चलता है, जब वो अपना टेस्ट करवाता है। लेकिन कुछ शुरूआती लक्षण होते हैं जिन्हें देखकर आप सतर्क हो सकते हैं, आइए उन लक्षणों पर बात करते हैं –

शुरूआती लक्षणों में मूत्र उत्पादन में वृद्धि हो सकती है, इसकी वजह से आपको बार-बार वाॅशरूम जाना पड़ सकता है। ऐसे होने पर अपना मधुमेह का टेस्ट जरूर करवाएं।

अगर आप अनुभव करें कि अचानक आपको अत्यधिक प्यास लगने लगी है तो ये निशानी हो सकती है कि आप डायबिटीज से पीड़ित हों।

जिन लोगों के शरीर में मधुमेह का स्तर बढ़ा होता है उनका वजन बहुत तेजी से घटना शुरू हो जाता है, ये भी एक निशानी हो सकता है।

कुछ मामलों में अचानक भूख का बढ़ना भी आपको डायबिटीज बढ़े होने का संकेत दे सकता है।

सबसे काॅमन लक्षणों में से एक है थकान का बढ़ना, अत्यधिक थकान लगना इस बात का संकेत हो सकता है कि आपके शरीर में डायबिटीज का स्तर बढ़ा हुआ है।

कुछ मामलों में त्वचा संबंधी समस्याएं भी सामने आ सकती हैं, त्वचा संबंधी समस्या का सामने आना ये इशारा हो सकता है कि आपके शरीर में मधुमेह का स्तर बढ़ा हुआ हो सकता है।

जिन लोगों में मधुमेह का स्तर बढ़ा हुआ होता है उनमें घाव तेज गति से नहीं भर पाते, इससे इस बात का इशारा मिल सकता है कि आपका मधुमेह बढ़ा हुआ हो सकता है।

मधुमेह का स्तर बढ़ा हुआ होने पर कुछ लोगों के पैरों या पैर की उंगलियों में झुनझुनी या सुन्नता का अनुभव हो सकता है।

1 मिनट में पढ़ेंः

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *