ऑनलाइन शॉपिंग से पहले क्या बिल्कुन न करें और क्या जरूर करें, आइए जानते हैं

अमित कुशवाहा (बदला हुआ नाम) जो कि एक किराना स्टोर चलाते हैं। अमित ऑनलाइन शॉपिंग से पहले सभी साधानियों का ख्याल रखते हैं। पिछले दिनों उन्हें एक वॉट्सेप आया जिसमें केबीसी में उन्हें 25 लाख जीतने का दावा किया गया था। साथ ही कहा गया था कि वे अपने अकाउंट की डिटेल बता दें। जिससे पैसा ऑनलाइन ट्रांसफर कर दिया जाए। लेकिन अमित जागरूक है, और वो जान गए ये एक फ्रॉड है। ऐसा ही कई लोगों के साथ होता है। आपको जागरूक रहने की जरूरत है। इन दिनों ऑनलाइन शॉपिंग के दौरान साधानियां न रखने की वहज से कई लोगों को ठगी का सामना करना पड़ रहा है। आइए जानते हैं कि ऑनलाइन शॉपिंग करने से पहले किन बातो का ख्याल रखना चाहिए।

ऑनलाइन शॉपिंग से पहले क्या बिल्कुन न करें (Dos and Don’ts of Online Shopping)

वाई-फाई से ऑनलाइन शॉपिंग

हैकर्स के लिए पब्लिक वाई-फाई तक पहुंच आसान होती है। इसलिए ऑनलाइन शॉपिंग करने के लिए अपने ऑफिस, मॉल या कॉफी शॉप के वाई-फाई से बचना चाहिए। इसके बजाय, जब आप घर पर हों तब खरीदारी करें क्योंकि यह अधिक सुरक्षित है।

आपका ईमेल-आई

ऑनलाइन शॉपिंग के लिए, हैक होने के जोखिम को कम करने के लिए एक नया ईमेल बनाएं। यदि आपका काम या व्यक्तिगत ईमेल हैक हो गया तो परेशानी हो सकती है। इसलिए एक अलग ई-मेल आई बेहतर रहती है।

स्टिक टू वन स्टोर

प्रतिष्ठित कंपनियों का प्रयोग ऑनलाइन शॉपिंग के लिए बेहतर होता है। इन सिक्योर पोर्टल से ऑनलाइन शॉपिंग करने पर आपको अधिक सावधान रहने की जरूरत है। अगर साइट सिक्योर है तो आपको रिव्यूज आदि को ध्यान से पढ़कर शॉपिंग करनी चाहिए।

गलत साइट की पहचान

ऑनलाइन फ्रॉड से बचने के लिए गलत पोर्टल से बचना बहुत जरूरी है। आजकल फ्रॉड करने के लिए कई गलत ऑनलाइन पोर्टल आपको भारी-भरकम डिस्काउंट का लालच ले सकते हैं। लेकिन ऐसे पोर्टल से बचने की जरूरत है। अगर सौदा बहुत अच्छा है, तो दो बार सोचें। वेबसाइटों की जांच में सतर्क रहें।

ऑनलाइन शॉपिंग से पहले क्या जरूर करें (Dos of Online Shopping)

डिस्काउंट कोड

जिस तरह से हम सभी लोकल मार्केट में खरीदारी करते समय छूट मांगते हैं। उसी तरह ऑनलाइन शॅपिंग में आपको डिस्काउंट कोड देखने चाहिए। जमेटो, अमेजन, मिंत्रा, फ्लिपकार्ट जैसे अधिकांश ऑनलाइन पोर्टल में प्रोमो-कोड मौजूद होते हैं। इसलिए कुछ अतिरिक्त पैसे बचाने के लिए इनका इस्तेमाल जरूर करें।

आकार की जाँच करें

सही साइज चुनना बहुत जरूरी होता है। गलत फिटिंग होने पर सामान रिप्लेस तो हो जाता है। लेकिन पहले सामाने चुनना, फिर रिप्लेस करना और फिर चुनाव करना परेशान करने वाला काम हो सकता है। इसलिए पहली बार में ही सही साइज का चुनाव करना चाहिए। इसके लिए आप पोर्टल पर मौजूद साइज चार्ट की सहायता ले सकते हैं।

शिपिंग चार्ज

शिपिंग चार्ज आपकी छूट का कम कर सकती है। कई ऑनलाइन पोर्टल निश्चित रूपए की शॉपिंग के बाद शिपिंग चार्ज माफ कर देते हैं। लेकिन आपका बिल पोर्टल द्वारा पहले से निर्धारित रकम से ज्यादा होना चाहिए। अगर आपका बिल उस निर्धारित रकम से कम है, तो आप अपने दोस्तों और रिश्तेदारों की जरूरत का सामान अपने सामान के साथ मंगवा सकते हैं। इससे आप अतिरिक्त शिपिंग चार्ज देने से बच सकते हैं।

कैश-ऑन-डिलीवरी

अगर यह विकल्पों मौजूद है, तो यह एक अच्छा विकल्प हो सकता है। यह विकल्प सुनिश्चित करता है कि खरीदार तक पहुंचने के बाद ही सामान का भुगतान किया जाए। इस तरह आपका किसी नई वेबसाइट या पोर्टल पर भरोसा करना आसान हो जाएगा।

हमारे फेसबुक पेज को फॉलो करें।

यह भी पढ़ेंः